उत्तर प्रदेश में ऑनलाइन वित्तीय धोखाधड़ी की रिपोर्ट करने हेतु व्यक्तियों के लिए साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत करने की समय सीमा क्या है

उत्तर प्रदेश में ऑनलाइन वित्तीय धोखाधड़ी की रिपोर्ट करने हेतु साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत करने की समय सीमा और जानकारी:

समय सीमा:

  • तत्काल: यदि आपको लगता है कि आपके साथ अभी-अभी ऑनलाइन धोखाधड़ी हुई है, तो तुरंत पुलिस को फोन करें या नजदीकी पुलिस स्टेशन जाकर रिपोर्ट दर्ज कराएं।
  • 24 घंटे: यदि आपको धोखाधड़ी का पता कुछ घंटों या दिनों बाद चलता है, तो आप 24 घंटे के अंदर साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत दर्ज कर सकते हैं।
  • 30 दिन: यदि आपको धोखाधड़ी का पता काफी समय बाद चलता है, तो आप 30 दिनों के अंदर भी साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर:

  • 155260: यह उत्तर प्रदेश पुलिस का साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर है।
  • 1930: यह भारत सरकार का राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर है।

ऑनलाइन शिकायत:

  • आप https://cybercrime.gov.in/ पर जाकर भी ऑनलाइन शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

आवश्यक जानकारी:

  • अपना नाम और संपर्क जानकारी:
  • घटना का विवरण:
  • कब और कैसे धोखाधड़ी हुई:
  • कितनी राशि का नुकसान हुआ:
  • धोखाधड़ी करने वाले का नाम और जानकारी (यदि उपलब्ध हो):
  • किसी भी सबूत का विवरण (जैसे बैंक स्टेटमेंट, स्क्रीनशॉट, आदि):
उत्तर प्रदेश में ऑनलाइन वित्तीय धोखाधड़ी की रिपोर्ट करने हेतु व्यक्तियों के लिए साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत करने की समय सीमा क्या है

अन्य महत्वपूर्ण जानकारी:

  • धोखाधड़ी के बाद तुरंत अपने बैंक को संपर्क करें और अपने खाते को ब्लॉक करवाएं:
  • अपने पासवर्ड और पिन को नियमित रूप से बदलते रहें:
  • अनजान लोगों से सावधान रहें:
  • किसी भी अनजान लिंक या ईमेल पर क्लिक न करें:
  • अपने कंप्यूटर और मोबाइल फोन पर एंटी-वायरस और एंटी-मालवेयर सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करें:

यह भी ध्यान रखें:

  • जितनी जल्दी आप रिपोर्ट करेंगे, उतनी ही जल्दी पुलिस आपकी मदद कर पाएगी:
  • सभी आवश्यक जानकारी पुलिस को दें:
  • धैर्य रखें:

सहायता के लिए:

  • आप साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके या https://cybercrime.gov.in/ पर जाकर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।

You may also like...